बांकाराजनीति

एक बार फिर से सुर्खियों में है बांका नगर परिषद, चेयरमैन का चुनाव 4 को

Banka Live On Telegram

बांका लाइव ब्यूरो : बांका नगर परिषद  सुर्खियों में है। कुछ ही सप्ताह पूर्व उपसभापति के चुनाव के बाद अब बांका नगर परिषद के नए सभापति का भी चुनाव होना है। इसके लिए 4 नवंबर की तारीख निर्धारित की गई है। बांका नगर परिषद के वर्तमान उपसभापति संतोष सिंह चेयरमैन पद के प्रबल दावेदार हैं।

- Banka Live

आंतरिक विवादों की वजह से बांका नगर परिषद पिछले एक वर्ष से भी ज्यादा समय से चर्चा में है। इसी दौरान तकनीकी रूप से तथ्य छिपाने के आरोप में नगर परिषद के उपसभापति अनिल सिंह अपना पद और अपनी सदस्यता दोनों गंवा चुके हैं। चेयरमैन रौनक सिंह और वार्ड पार्षद माधुरी सिंह पर भी मामला दर्ज है और वे अरसे से नगर परिषद की गतिविधियों से अनुपस्थित रहे हैं।

उपसभापति का पद रिक्त होने के बाद कुछ सप्ताह पूर्व इसके लिए चुनाव हुआ था जिसमें वार्ड पार्षद संतोष सिंह ने भारी बहुमत से जीत दर्ज की थी। इस बीच चेयरमैन रौनक सिंह के खिलाफ स्वयं उपसभापति संतोष सिंह ने गत 5 अक्टूबर को बांका नगर परिषद की बैठक में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था। इस प्रस्ताव पर अनुमंडल पदाधिकारी की उपस्थिति में मतदान कराया गया। मतदान के दौरान 21 वार्ड पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में मतदान किया। विरोध में एक भी मत नहीं पड़ा। उस दिन 21 पार्षद ही सदन में मौजूद थे और सब ने अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन कर दिया।

Banka Live Offer

इस परिस्थिति में प्रशासनिक स्तर पर एक माह के अंदर नए चेयरमैन का चुनाव कराया जाना था। इस नियम के मद्देनजर बांका नगर परिषद के नए चेयरमैन के चुनाव की तारीख निर्धारित की गई। जिलाधिकारी के आदेश से 4 नवंबर को बांका समाहरणालय के सभागार में बांका नगर परिषद के नए सभापति का चुनाव किया जाएगा। इसके लिए वरीय पदाधिकारी के तौर पर अनुमंडल पदाधिकारी मनोज कुमार चौधरी को प्रतिनियुक्त किया गया है। जबकि कई अन्य पदाधिकारी भी उनके सहयोग के लिए चुनाव के दौरान मौजूद रहेंगे।

बांका नगर परिषद के वर्तमान उपसभापति संतोष सिंह सभापति पद के लिए भी प्रबल दावेदार हैं। नगर परिषद में सदस्यों और समीकरण की जो वर्तमान स्थिति है उसके मुताबिक संतोष सिंह सभापति पद के लिए निर्विरोध निर्वाचित हो सकते हैं। क्योंकि अब तक की स्थिति के मुताबिक इस पद के लिए संतोष सिंह अकेले दावेदार सामने आए हैं। अगर संतोष सिंह का चुनाव सभापति पद के लिए निर्विरोध हो जाता है तो बांका नगर निकाय के लिए यह एक ऐतिहासिक बात होगी। क्योंकि सभापति निर्वाचित होने के बाद अपने उपसभापति पद का इस्तीफा उन्हें स्वयं स्वीकार करना होगा।

बांका नगर परिषद में कुल 26 वार्ड हैं। लेकिन वर्तमान में वार्ड पार्षदों की संख्या 25 है। वार्ड संख्या 18 के पार्षद पूर्व उपसभापति अनिल सिंह की सदस्यता रद्द की जा चुकी है। लिहाजा यह सीट खाली है। इस बीच चर्चा है कि सभापति पद के लिए होने वाले चुनाव में 23 वार्ड पार्षद ही भाग ले सकते हैं। क्योंकि चेयरमैन रौनक सिंह तथा पार्षद माधुरी सिंह वैसे भी पिछले लंबे समय से नगर परिषद की गतिविधियों से बाहर रहे हैं। ज्ञात हो कि चेयरमैन रौनक सिंह, पूर्व उपसभापति अनिल सिंह के ही पुत्र एवं वार्ड पार्षद माधुरी सिंह अनिल सिंह की धर्मपत्नी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button