अपराधबांका

डुमरामा में झड़प के बाद बिगड़े हालात, क्षेत्र पुलिस छावनी में तब्दील, डीआईजी भी पहुंचे

Banka Live On Telegram

ब्यूरो रिपोर्ट : बांका जिला अंतर्गत अमरपुर थाना क्षेत्र के डुमरामा तथा गंगापुर गढ़ैल गांव के लोगों के बीच आज शाम हुई झड़प के बाद दो समुदायों के बीच तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गयी। झड़प के दौरान दो पुलिस पदाधिकारियों के अलावा करीब दर्जन भर लोगों के जख्मी होने की खबर है। झड़प एवं तनाव की खबर सुनते ही बांका सहित पड़ोसी जिले के विभिन्न थानों से भारी संख्या में सुरक्षाबलों को मौका ए वारदात पर पहुंचने के लिए रवाना होने का आदेश दिया गया। देखते ही देखते देर शाम तक डुमरामा तथा गंगापुर गढ़ैल एवं आसपास का इलाका सुरक्षाबलों की छावनी में तब्दील हो गया।

IMG 20190623 WA0060 - Banka Live

स्थिति की नजाकत को देखते हुए भागलपुर से डीआईजी पुलिस विकास वैभव एवं बांका के जिलाधिकारी कुंदन कुमार सहित अनेक वरीय पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे तथा स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रशासन तंत्र किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है। हालांकि हालात बेकाबू नहीं, बल्कि पूरी तरह नियंत्रण में हैं। इलाके में शांति व्यवस्था बहाल है। पूरी स्थिति पर सूक्ष्मता से नजर रखी जा रही है। इलाके में सुरक्षा बलों की भारी मौजूदगी है।

इधर, आज शाम की घटना के बाद क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। प्रशासन ने किसी भी तरह की अफवाह से बचने की अपील लोगों से की है। झड़प की घटनाओं में घायल लोगों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। दरअसल, आज शाम करीब 5:15 बजे एक प्राइवेट बिजली ठेका कंपनी के मिस्त्री प्रकाश की अमरपुर के गंगापुर गढ़ैल स्थित एक पोल पर उस वक्त करंट लगने से मौत हो गई जब वह कोई तकनीकी खराबी ठीक कर रहा था। नीचे उसका एक साथी मिस्त्री खड़ा था। स्थानीय लोगों के मुताबिक साथी मिस्त्री द्वारा शटडाउन वापस लिए जाने की वजह से ही प्रकाश मिस्त्री की करंट लगने से मौत हो गई।

Banka Live Offer
IMG 20190623 WA0062 - Banka Live

इस घटना के बाद ग्रामीणों ने प्रकाश के साथी मिस्त्री जो डुमरामा निवासी है की गंगापुर गढ़ैल में जमकर पिटाई कर दी जिसमें वह घायल हो गया। खबर सुन कर डुमरामा के ग्रामीण वहां पहुंचे तो उन पर भी गुस्साए ग्रामीणों ने पथराव कर उन्हें खदेड़ दिया। विरोध में डुमरामा के ग्रामीण अपने गांव लौटे और मस्जिद के पास मोड़ पर सड़क जाम कर भागलपुर- बांका मार्ग को अवरुद्ध कर दिया। डुमरामा में ग्रामीण इतने आक्रोशित थे कि वे सड़क से होकर गुजरने वाले किसी भी व्यक्ति को बेरहमी से मारपीट रहे थे। मारपीट में करीब दर्जन भर लोगों को चोटें आने की खबर है।

इससे पहले गंगापुर गढ़ैल में हंगामा और मारपीट की खबर सुनकर अमरपुर के दो पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंचे थे। ग्रामीणों ने उन पर भी पथराव कर उन्हें जख्मी कर दिया। इनमें से एक का इलाज अस्पताल में कराया गया। डुमरामा एवं गंगापुर गढ़ैल की आज की घटना की खबर सुनने के बाद डीआईजी विकास वैभव तथा बांका से जिलाधिकारी कुंदन कुमार सहित अनेक पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और स्थिति की समीक्षा की। 

इससे पूर्व भारी संख्या में सुरक्षा बल वहां पहुंच चुके थे और उन्होंने स्थिति को नियंत्रण में कर लिया था। अधिकारियों ने ग्रामीणों से आपस में शांति एवं भाईचारा बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा कि कानून को हाथ में लेने की किसी को इजाजत नहीं। दोषी पाए गए लोगों पर कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। ज्ञात हो कि गंगापुर गढ़ैल में जिस बिजली मिस्त्री प्रकाश की मौत करंट लगने से हुई वह इसी थाना क्षेत्र के विश्वंभरचक का रहने वाला था। जबकि उसके साथ गए मद्दो मिस्त्री का घर डुमरामा बताया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button