बांकास्वास्थ्य

नेत्र ज्योति संवर्धन के लिए त्राटक क्रिया बेहद लाभकारी : योगगुरु अभिषेक

Banka Live On Telegram

बांका लाइव ब्यूरो : अत्यंत व्यस्त एवं भागदौड़ से भरी आज के दौर की जिंदगी में मेंटल स्ट्रेस अप्रत्याशित नहीं है। मेंटल स्ट्रेस की वजह से नसों का खिंचाव और इस वजह से नेत्र ज्योति का कमजोर पड़ना भी बहुत अस्वाभाविक नहीं है। ऐसे में आंखों की देखभाल हमारी जिंदगी का एक बड़ा टास्क हो जाता है।

IMG 20200928 - Banka Live

आधुनिक चिकित्सा विज्ञान के मुताबिक एक निश्चित आयु सीमा के बाद नेत्र ज्योति वैसे भी कमजोर पड़ने लगती है। इस नियमित समस्या से निपटने के लिए सिर्फ दवा दारू ही नहीं बल्कि योग क्रिया इससे कहीं ज्यादा लाभकारी सिद्ध होती है। योग पद्धति में त्राटक क्रिया इस समस्या का एक उचित और कारगर समाधान है।

युवा योग गुरु अभिषेक कुमार ने बांका शहर के योगिक सेंटर में रविवार को नेत्र ज्योति संवर्धन पर आयोजित एक विशेष साधना सत्र में नियमित साधकों को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि त्राटक क्रिया के नियमित अभ्यास से मन की एकाग्रता, तर्कशक्ति में वृद्धि और याददाश्त का समृद्ध संवर्धन होता है। छात्र छात्राओं और विशेष रूप से मानसिक कामकाज करने वालों के लिए यह क्रिया खास लाभकारी है।

Banka Live Offer
IMG 20200928 - Banka Live

योगिक सेंटर में नियमित योग साधकों को त्राटक क्रिया की सैद्धांतिक जानकारी देते हुए उन्हें अभ्यास भी कराया गया। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि यह क्रिया आंखों को साफ करने तथा नेत्र ज्योति को बढ़ाने में बेहद मददगार साबित होती है। त्राटक क्रिया दीप, किसी निश्चित बिंदु या अरुणोदय पर दृष्टि एकटक कायम रखकर किया जाता है। इस अवसर पर वैद्य राम किशोर राय, राजाराम डोकानिया, कणव, चौधरी नयन, संध्या, सोनू कुमार, मोनू कुमार आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button