राजनीतिबांका

पूर्व सांसद पुतुल सिंह के बेलहर दौरे से गरमायी जिले की सियासत

रचना वाहिनी को पुनर्गठित कर सक्रिय करने का कार्यकर्ताओं ने लिया निर्णय

Banka Live On Telegram

बांका लाइव डेस्क : पूर्व सांसद पुतुल सिंह के बेलहर दौरे से एक बार फिर बांका जिले की सियासत गर्म हो उठी है। पुतुल सिंह ने क्षेत्र के अपने ताजा दौरे में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रचना वाहिनी को पुनर्गठित कर और अधिक सक्रिय करने का आह्वान किया है।

FB IMG 1553581498319 01 - Banka Live

ज्ञात हो कि यह वही रचना वाहिनी है जिसके बूते पूर्व सांसद पुतुल सिंह के पति पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय दिग्विजय सिंह ने 2009 के लोकसभा चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए बतौर निर्दलीय प्रत्याशी बांका संसदीय क्षेत्र से शानदार जीत दर्ज की थी।

पुतुल सिंह विगत 30 नवंबर को बेलहर क्षेत्र के दौरे पर थीं। अपने इस दौरे में वह कार्यकर्ताओं के काफिले के साथ कई गांवों में गयीं और कार्यकर्ताओं से बातचीत करते हुए न सिर्फ उनकी बातें सुनीं बल्कि अपना भी संदेश उन्हें दिया। वापस लौटकर उन्होंने रचना वाहिनी के कार्यकर्ताओं के साथ एक बैठक में शिरकत की। बैठक में बड़ी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद थे।

Banka Live Offer

इस अवसर पर पूर्व सांसद पुतुल सिंह ने बांका संसदीय क्षेत्र के इतिहास की याद दिलाते हुए कार्यकर्ताओं से कहा कि उनकी एकजुटता ही पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय दिग्विजय सिंह को सच्ची श्रद्धांजलि है। उन्होंने रचना वाहिनी को फिर से उसी रूप में सक्रिय करने की जरूरत पर बल देते हुए कार्यकर्ताओं का आह्वान किया, जिसके बूते स्वर्गीय दिग्विजय सिंह ने वर्ष 2009 के संसदीय चुनाव में नीतीश कुमार को खुली चुनौती देते हुए निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर बांका लोकसभा क्षेत्र से शानदार जीत दर्ज की थी।

इस अवसर पर जिले के प्रत्येक प्रखंड एवं पंचायत स्तर पर रचना वाहिनी के संगठन को पुनर्जीवित एवं पुनर्गठित कर सक्रियता बढ़ाने की जरूरत पर बल दिया गया और इस संबंध में महत्वपूर्ण निर्णय लिए गये। साथ ही कार्यकर्ताओं ने आश्वस्त किया कि अपनी एकजुटता और सक्रियता कायम रखने के लिए प्रखंड से लेकर पंचायत और जिला स्तर पर रचना वाहिनी के दफ्तर भी खोले जाएंगे ताकि जनता से उनका सीधा संवाद कायम हो सके।

विगत लोकसभा चुनाव भी पूर्व सांसद पुतुल सिंह ने उसी स्थिति में बतौर निर्दलीय प्रत्याशी लड़ा था जब अंतिम क्षणों में बांका की सीट एनडीए की ओर से बीजेपी के कोटे से हटाकर जदयू की झोली में डाल दी गई थी और इस तरह उनका टिकट काट लिया गया था। ऐसे में कार्यकर्ताओं इच्छा के अनुरूप उन्होंने निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ा। हालांकि इस चुनाव में क़रीब एक लाख तीन हजार मतों के साथ वह तीसरे स्थान पर रहीं।

इस चुनाव के बाद पहली बार बांका पहुंची पूर्व सांसद पुतुल सिंह ने बांका के मधुबन विहार में कार्यकर्ताओं की एक बड़ी सभा को संबोधित करते हुए उन्हें अपना हौसला बनाए रखने तथा रचना वाहिनी को पुनर गठित कर उन्हें सक्रियता प्रदान करने का आह्वान किया था। कार्यकर्ताओं के अनुसार उनके आह्वान पर काम तेजी से जारी है। आने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारियों तक रचना वाहिनी के पुनर्गठन का काम पूरी तरह मुकम्मल कर लिए जाने की उम्मीद है। कार्यकर्ताओं को ऊर्जा एवं उनके कार्यों को गति प्रदान करने के उद्देश्य से ही पूर्व सांसद पुतुल कुमारी का ताजा बेलहर दौरा संपन्न हुआ। उनके इस ताजा दौरे के बाद जहां रचना वाहिनी के कार्यकर्ता उत्साहित एवं ऊर्जावान हैं, वहीं जिले में सियासत एक बार फिर काफी गर्म हो उठी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button