स्वास्थ्यबांका

बांका में अब सख्त होगा लॉक डाउन, तोड़ने वालों पर होगी कठोर कार्रवाई : एसपी

Banka Live On Telegram

Banka Live (ब्यूरो रिपोर्ट) : लॉक डाउन में लापरवाही अब किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी। लॉक डाउन में पूरी सख्ती की घोषणा करते हुए एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने नियमों को तोड़ने वालों पर कठोर कार्रवाई का निर्देश दिया है।

- Banka Live

जिलाधिकारी सुहर्ष भगत के साथ आज शाम एक प्रेस ब्रीफिंग के दौरान एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने कहा कि बांका जिले में उत्पन्न क्रिटिकल कोरोना संकट को देखते हुए यहां किसी भी स्थिति में लॉक डाउन के नियमों का उल्लंघन आत्मघाती होगा। प्रशासनिक स्तर पर इसकी अनुमति नहीं दी जा सकती।

उन्होंने कहा कि लॉक डाउन का किसी भी तरह उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। यह कार्रवाई अब सिर्फ भारतीय दंड विधान की धाराओं के अंतर्गत नहीं, बल्कि एपिडेमिक एक्ट सहित अन्य कानूनों के तहत भी की जाएगी।

Banka Live Offer

एसपी ने कहा कि सरकार के निर्देश के आलोक में अब घर से बिना मास्क लगाए कोई भी व्यक्ति बाहर नहीं निकल सकेगा। घर से बाहर बिना मास्क लगाए जो भी व्यक्ति पकड़े जाएंगे, उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही जुर्माना भी वसूला जाएगा।

उन्होंने कहा कि लॉक डाउन में बिना जरूरी और तर्कपूर्ण कारणों के घर से बाहर निकलने पर पूरी तरह रोक है। वाहनों के परिचालन को लेकर भी नियम हैं। बाइक पर सिर्फ एक व्यक्ति, जबकि कार पर सिर्फ दो व्यक्ति सवारी कर सकेंगे, वह भी जरूरी होने पर।

उन्होंने जानकारी दी कि जिले में कोरोना संक्रमण का बीजारोपण करने वाले मैनमा प्रकरण में महिला के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए गांव से जाने वाले 16 लोग जिन दो ऑटो रिक्शा पर सवार होकर सुल्तानगंज गए थे, उन दोनों ही ऑटो रिक्शा को जप्त कर लिया गया है।

जिलाधिकारी सुहर्ष भगत एवं एसपी अरविंद कुमार गुप्ता ने कहा कि जो भी लोग कहीं बाहर से बांका जिले में आए हैं अथवा आ रहे हैं, वे स्वेच्छा से जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग को सूचित करें। उनकी जांच की जाएगी। यह जांच उन्हीं के जीवन की सुरक्षा के लिए है। इसमें वे कहीं कोई संकोच ना करें।

 उन्होंने कहा कि अब यह बात सामने आ चुकी है कि ज्यादातर मामलों में संक्रमित होने के बावजूद कोरोना मरीजों में कस्टमाइज लक्षण प्रकट नहीं होते। ऐसे में जीवन की सुरक्षा और बीमारी से बचने के लिए जांच बिल्कुल जरूरी एहतियाती कदम है। उन्होंने अभिभावकों से भी अपील की कि वे अपने परिवार के सदस्यों से लॉक डाउन का पालन करवाएं। खासकर बच्चों को खेलने अथवा साइकिल आदि चलाने के लिए घर से बाहर न जाने दें। उन्होंने कहा कि कोरोना से डरें नहीं, बल्कि लॉक डाउन का सख्ती से पालन करते हुए इसका खुद भी मुकाबला करें और प्रशासन का भी सहयोग करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button