बांकास्वास्थ्य

बांका में TrueNat मशीन से हो रही कोरोना जांच में अब तक 13 पॉजिटिव निकले

Banka Live On Telegram

बांका लाइव ब्यूरो : बांका जिले में अब तक पाए गए कोरोना संक्रमित मरीजों की वास्तविक संख्या को लेकर जिले के लोगों में संशय की स्थिति बनी हुई है। स्वास्थ्य विभाग के राज्य मुख्यालय से कोरोना संक्रमण के जो आंकड़े प्रसारित होते हैं, दरअसल उनसे अलग भी अब राज्य के प्रत्येक जिला मुख्यालयों में कोरोना संक्रमितों की पुष्टि के लिए TrueNat मशीन लगी हुई है। इन मशीनों से की जा रही जांच में भी कोरोना पॉजिटिव केस निकल रहे हैं। इनका आंकड़ा अलग है।

images 2020 07 - Banka Live

जिले में कोरोना संक्रमण की वास्तविक स्थिति का आंकड़ा जानने के लिए इन दोनों ही स्तरों पर की जा रही जांच का आंकड़ा संयुक्त करना होगा। बांका जिले में अगर इन दोनों आंकड़े को संयुक्त किया जाए तो अब तक यहां कोरोना संक्रमण के 245 नहीं, 258 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं।

IMG 20210413 WA0066 - Banka Live

बांका सदर अस्पताल में कोरोना टेस्ट के लिए ट्रूनेट मशीन लगी हुई है। यह मशीन यहां करीब 3 सप्ताह से ज्यादा समय हुए, लगाई गई। पहले इस मशीन के जरिए की गई जांच से सामने आए रिजल्ट को सिर्फ नेगेटिव रिपोर्ट आने पर ही मान्य समझा जाता था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर पुष्टि के लिए आरएमआरआई पटना भेजने का निर्देश था। वहां से पुष्टि होने पर ही किसी संदिग्ध को कोरोना पॉजिटिव माना जा सकता था।

Banka Live Offer

फलस्वरुप यहां इस मशीन से की गई जांच रिपोर्ट सिर्फ नेगेटिव ही दर्ज की जा रही थी। पॉजिटिव रिपोर्ट की पुष्टि सिर्फ राज्य मुख्यालय से ही हो रही थी। लेकिन जैसा कि इसके इंचार्ज एवं अमरपुर रेफरल अस्पताल के प्रभारी डॉ अभय प्रकाश चौधरी ने बताया कि विगत 10 दिनों से भी ज्यादा हुए, यहां इस मशीन के साथ उपयोग के लिए कोविड-2 चिप उपलब्ध कराया गया, जिसके बाद इसी मशीन में कोरोना की कन्फर्म रिपोर्ट आने लगी।

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बांका सदर अस्पताल में लगी तू नेट मशीन से अब तक 1085 संदिग्धों के सैंपल जांच किए जा चुके हैं। इनमें से 13 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। अगर इस आंकड़े को भी जोड़ा जाए, तो बांका जिले में कोरोना के सिर्फ 245 मामले नहीं, बल्कि 258 पॉजिटिव मामले दर्ज हैं। इनमें से करीब 240 के आसपास स्वस्थ होकर वापस अपने घर लौट चुके हैं। जबकि शेष पॉजिटिव मामलों में संक्रमित मरीज आइसोलेशन सेंटर में अपना इलाज करा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button