अपराधबांकाबिहारभागलपुर

BREAKING : विजिलेंस की बड़ी कार्रवाई, एक लाख की रिश्वत लेते सर्किल इंस्पेक्टर गिरफ्तार

Get Latest Update on Whatsapp
IMG 20210928 29605 - Banka Live

बांका लाइव ब्यूरो : बिहार के भागलपुर से इस वक्त एक बड़ी खबर आ रही है। निगरानी विभाग के एक दस्ते ने मंगलवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए एक लाख रुपए की रिश्वत लेते राजस्व विभाग के एक सर्किल इंस्पेक्टर सह राजस्व कर्मचारी को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार सर्किल इंस्पेक्टर का नाम अभिनंदन प्रसाद सिंह है और वह बांका जिले की सीमा से लगे भागलपुर जिले के शाहकुंड में पदस्थापित है। गिरफ्तार सर्किल इंस्पेक्टर अभिनंदन प्रसाद सिंह को निगरानी विभाग की टीम अपने साथ लेकर पटना के लिए रवाना हो गई है। पूछताछ के बाद उसे बुधवार को भागलपुर कोर्ट में उपस्थापित किया जाएगा। इस कार्रवाई में निगरानी विभाग के दावा दस्ते का नेतृत्व विजिलेंस डिप्टी एसपी अरुण पासवान कर रहे थे।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार निगरानी विभाग की यह कार्रवाई मंगलवार को सबेरे ठीक 8:10 बजे हुई। पटना से पहुंचे निगरानी दस्ते ने इस कार्रवाई के लिए नाकाबंदी की और जमीन दाखिल खारिज के एक मामले को लेकर एक लाख रुपए की रिश्वत लेते राजस्व कर्मचारी सह सर्किल इंस्पेक्टर अभिनंदन प्रसाद सिंह को उसके भागलपुर जिला मुख्यालय स्थित तिलकामांझी थाना क्षेत्र के जवारीपुर वृंदावन कॉलोनी स्थित घर पर धर दबोचा। मौके पर रिश्वत में ली गई एक लाख रुपये की राशि भी बरामद कर ली गई है।

IMG 20211011 WA0011 - Banka Live
IMG 20210928 14187 - Banka Live

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार शाहकुंड (भागलपुर) में पदस्थापित सर्किल इंस्पेक्टर अभिनंदन प्रसाद सिंह भागलपुर के तिलकामांझी थाना क्षेत्र अंतर्गत जवारीपुर के वृंदावन कॉलोनी में स्थित अपने घर पर ही लेनदेन कर रहा था। शाहकुंड प्रखंड अंतर्गत खैरा गांव निवासी मोहम्मद इकबाल ने विजिलेंस को शिकायत दर्ज कराई थी कि 5 डिसमिल खरीदगी जमीन के म्यूटेशन में रिश्वत ऐंठने के लिए उक्त सर्किल इंस्पेक्टर ने नाहक कागजी अड़ंगा लगाते हुए म्यूटेशन करने के लिए एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी है। परिवादी की शिकायत पर निगरानी थाना पटना में कांड संख्या 039/ 2021 (दिनांक 27 सितंबर 2021) दर्ज किया गया था।

शाहकुंड प्रखंड अंतर्गत खैरा गांव निवासी मोहम्मद इकबाल ने विजिलेंस को शिकायत दर्ज कराई थी कि 5 डिसमिल खरीदगी जमीन के म्यूटेशन में रिश्वत ऐंठने के लिए उक्त सर्किल इंस्पेक्टर ने नाहक कागजी अड़ंगा लगाते हुए म्यूटेशन करने के लिए एक लाख रुपए की रिश्वत मांगी है। परिवादी की शिकायत पर निगरानी थाना पटना में कांड संख्या 039/ 2021 (दिनांक 27 सितंबर 2021) दर्ज किया गया था।

इस मामले में कार्रवाई के लिए विभाग की ओर से अनुसंधानकर्ता विजिलेंस डिप्टी एसपी अरुण पासवान के नेतृत्व में धावा दल का गठन किया गया। त्वरित अनुसंधान एवं सत्यापन के बाद धावा दल ने मंगलवार को सबेरे 8:10 बजे कार्रवाई करते हुए परिवादी से जमीन म्यूटेशन के लिए एक लाख रुपए रिश्वत लेते उसके अपने ही घर से सर्किल इंस्पेक्टर अभिनंदन प्रसाद सिंह को रंगे हाथ धर दबोचा। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तारी के बाद निगरानी विभाग की टीम उसे लेकर पटना के लिए निकल गई है। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक उससे सघन पूछताछ की जाएगी। पूछताछ के बाद गिरफ्तार सर्किल इंस्पेक्टर को बुधवार को भागलपुर स्थित न्यायालय में पेश किया जाएगा।

इस अभियान में नेतृत्वकर्ता सह कांड के अनुसंधानकर्ता विजिलेंस डिप्टी एसपी अरुण पासवान के साथ पुलिस उपाधीक्षक (परिक्ष्यमान) अरुणोदय पांडेय, पुलिस उपाधीक्षक संजय कुमार जायसवाल, पुलिस निरीक्षक ईश्वर प्रसाद एवं सुशील कुमार यादव, सत्यापनकर्ता पुलिस अवर निरीक्षक अविनाश कुमार झा, पुलिस अवर निरीक्षक संजय कुमार चतुर्वेदी एवं देवी लाल श्रीवास्तव, सहायक अवर निरीक्षक राजीव कुमार तथा आरक्षी शशिकांत एवं मणिकांत सिंह शामिल थे। रिश्वतखोरी एवं भ्रष्टाचार के खिलाफ निगरानी विभाग की इस बड़ी एवं त्वरित कार्रवाई से महकमें में हड़कंप मच गया है।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button