बांका

LIVE : बांका जिले की सड़कों पर जारी है यातायात का ‘महा-लॉकडाउन’

Banka Live On Telegram

बांका लाइव ब्यूरो : बदहाल सड़कें और बारिश का मौसम बस इतना ही काफी है यातायात के लॉकडाउन के लिए। बांका जिले की सड़कें इन दिनों महाजाम की महामारी से त्रस्त हैं। यह स्थिति इस जिले की बदहाल सड़कों और बारिश की वजह से उत्पन्न हुई है। इस महामारी का कोई इलाज शायद प्रशासन तंत्र के पास भी इस वक्त उपलब्ध नहीं है। तभी तो इस जिले की सड़कों पर यातायात रेंगने की स्थिति में ही नहीं है।

28 06 2020 28ban17 c - Banka Live

बांका जिले कि ज्यादातर सड़कें वैसे भी बदहाल हैं। लेकिन रही सही कसर भी बारिश ने पूरी कर दी है। उस पर भी त्रासदीपूर्ण यह है कि बांका जिले की जीवन रेखा कहा जाने वाला चांदन पुल अब पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है। इस पर यातायात तो दूर, लोगों के पैदल चलने की भी मनाही है। ऐसे में बांका, देवघर, जमुई और दक्षिण बिहार के साथ-साथ झारखंड की ओर जाने वाले ज्यादातर वाहन भागलपुर दुमका हाईवे से ही गुजरते हैं।

इधर बांका जिला मुख्यालय सहित देवघर, जमुई और झारखंड की ओर से आने वाले वाहन चांदन पुल पार कर भागलपुर- दुमका मुख्य मार्ग का इस्तेमाल करने से वंचित हैं। फलस्वरुप उनकी यातायात का एकमात्र विकल्प बांका- अमरपुर- भागलपुर रोड ही रह गया है। ऐसे में जिले के कुछ मार्गों पर यातायात का दबाव अपेक्षाकृत बहुत ज्यादा बढ़ गया है।

Banka Live Offer

यही वजह है कि भागलपुर- दुमका मुख्य मार्ग पर रजौन, पुनसिया, ढाकामोड़, बौंसी और भलजोर के आसपास पिछले 3 दिनों से महाजाम की स्थिति है। बड़ी संख्या में वाहन जहां तहां फंसे हैं। इन वाहनों को 20 किमी की दूरी तय करने में 24 घंटे का वक्त लग रहा है। यात्री वाहन तो पहले ही इस बारे में पता लग जाने पर इधर से होकर आने से तौबा करते हैं।

दूसरी ओर बांका- अमरपुर- भागलपुर रोड में इंग्लिशमोड़, अमरपुर, कजरेली और दाऊदबाट के आसपास जाम की स्थिति कायम हो जाती है। इन स्थानों पर हर घंटे- दो घंटे के बाद लगभग इतने ही समय के लिए महाजाम की स्थिति लग जाती है। इन स्थितियों में सर्वाधिक परेशानी आम यात्रियों को होती है। मरीजों तक को ले जाने वाले वाहन, एंबुलेंस आदि जाम के शिकार होकर घंटों फंस जाते हैं। छोटे एवं दोपहिया वाहनों का भी जाम के दौरान निकल पाना मुश्किल होता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button