बांका

बिहार में अपने जनाधार विस्तार के लिए सब कुछ करने को तैयार है भाजपा!

Banka Live On Telegram
banka bjp banka live

बांका LIVE डेस्क : भारतीय जनता पार्टी की पैनी नजर अब आगामी लोकसभा चुनावों के साथ साथ बिहार विधानसभा चुनावों पर भी है. बिहार विधानसभा के विगत चुनाव में महागठबंधन के हाथों करारी शिकस्त झेलने के बाद भाजपा अब बिहार में किसी भी तरह का झोल बर्दाश्त करने के मूड में नहीं है. यही वजह है कि पार्टी ने यूपी की तर्ज़ पर बिहार में भी अभी से आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर तैयारियां आरंभ कर दी हैं.

इस सिलसिले में पार्टी की सर्वोच्च प्राथमिकता फिलहाल बिहार में पार्टी के व्यापक जनाधार विस्तार पर है. इसके लिए भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने राज्य में गली- मोहल्ले से लेकर पंचायत, प्रखंड और जिला स्तर पर अनेक जनोन्मुखी कार्यक्रमों की रणनीति तैयार कर इस पर निचले स्तर से अमल प्रारंभ भी कर दिया है. पार्टी संगठन में बूथ स्तर पर विस्तारकों की नियुक्ति इसी रणनीति की निम्नतम किंतु सबसे महत्वपूर्ण कड़ी है. इसके लिए राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्र स्तर पर कार्यकर्ताओं का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया जा रहा है. इन्हीं शिविरों में सक्रिय कार्यकर्ताओं को बूथ स्तरीय विस्तारक की जिम्मेदारी दी जा रही है.

इस बात का खास ख्याल रखा जा रहा है कि विस्तारकों की नियुक्ति अंतर मंडल स्तर पर हो. बांका जिले में यह कार्यक्रम जोर-शोर से चलाया जा रहा है. जिले के पांच विधानसभा क्षेत्रों में से दो बेलहर तथा बांका विधानसभा क्षेत्र स्तर के प्रशिक्षण शिविर संपन्न हो चुके हैं. जबकि जिला अध्यक्ष विकास कुमार सिंह के मुताबिक धोरैया में 8 मई, कटोरिया में 10 मई तथा अमरपुर में 11 मई को ये प्रशिक्षण शिविर आयोजित होंगे. जिलाध्यक्ष विकास कुमार सिंह ने बताया कि अंतर मंडलीय स्तर पर नियुक्त बूथ स्तर के विस्तारक 15 दिनों तक अपने-अपने आवंटित बूथों पर प्रवास कर आम लोगों को पार्टी से जोड़ने का प्रयास करेंगे. यह अभियान 5 मई से आरंभ हो चुका है जो 25 मई तक चलेगा. इस दौरान वे उन्हें केंद्र सरकार की उपलब्धियों, जन कल्याणकारी योजनाओं और भाजपा के एजेंडे के बारे में व्यापक जानकारी देंगे.

Banka Live Offer

इसके अतिरिक्त स्थानीय मुद्दों और जनसमस्याओं को लेकर मंडल स्तर पर धरना कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. जबकि प्रत्येक जिला मुख्यालय में हर माह कम से कम एक बार इन्हीं मुद्दों को लेकर धरना कार्यक्रम आयोजित किए जाने का प्रस्ताव है. इनके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में जून माह में व्यापक वृक्षारोपण कार्यक्रम चलाए जाएंगे. साथ ही ‘बेटी बचाओ- बेटी पढ़ाओ’ कार्यक्रम को भी पार्टी ने अपना एजेंडा घोषित करते हुए प्रत्येक जिले में एक-एक निर्धन दलित कन्या को गोद लेकर पढ़ाई लिखाई से लगायत उसके विवाह तक की संपूर्ण जिम्मेदारी उठाने का भी निर्णय लिया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button