बांका

मरहूम कांस्टेबल गौरी शंकर सिंह मामले की सीबीआई जांच व न्याय की मांग को लेकर आमरण अनशन शुरू

Banka Live On Telegram
बांका लाइव ब्यूरो : बांका निवासी एवं बेगूसराय जिला पुलिस बल में प्रतिनियुक्त कांस्टेबल गौरी शंकर सिंह की मौत के मामले की जांच और उनके परिवार को न्याय देने की मांग को लेकर बांका जिला मुख्यालय के वीर कुंवर सिंह मैदान में आमरण अनशन प्रारंभ किया गया है। आमरण अनशन कल 4 अप्रैल को ही आरंभ किया गया है जो आज दूसरे दिन भी जारी है।

सामाजिक संगठनों द्वारा किए जा रहे इस आमरण अनशन कार्यक्रम में पत्रकार एवं समाजसेवी संजीव कुमार सिंह, संयोजक राष्ट्रीय करणी सेना मुंगेर अविनाश सिंह, करणी सेना के बिहार राज्य महामंत्री सौरभ सागर सिंह, पत्रकार एवं समाजसेवी नंदकुमार सिंह, करणी सेना कटिहार के पीयूष कुमार सिंह एवं बांका के नवनीत सिंह बंटी शामिल हैं।

FB IMG 15228601675842276 - Banka Live

कल 4 अप्रैल को शुरू हुए इस आमरण अनशन के पहले दिन अपने समर्थन के साथ बड़ी संख्या में स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया। आज दूसरे दिन भी अनशन स्थल पर सामाजिक कार्यकर्ताओं का जुटान जारी है। इस आयोजन में राजद मुंगेर के संजय सिंह उर्फ मुन्ना सिंह, राजद बांका के नेता जफरउल होदा, रालोसपा जमालपुर के राजेश सिंह, भाजपा मुंगेर के कुंदन सिंह, सनातन फाउंडेशन के विजय प्रताप सनातन, भारतीय जनता युवा मोर्चा बांका के रजनीश सिंह उर्फ सोनू सिंह, राजीव रंजन सिंह, कुणाल सौरभ सिंह आदि सहयोग कर रहे हैं।

Banka Live Offer

ज्ञात हो कि बांका सदर प्रखंड अंतर्गत विशनपुर गांव के कांस्टेबल गौरी शंकर सिंह बेगूसराय टाउन थाना में पदस्थापित थे जहां हुए एक विवाद के बाद उनके साथ मार पिटाई की बात प्रकाश में आई थी। जिसके बाद उन्हें हॉस्पिटल में दाखिल कराया गया था। उनकी मर्माहत कर देने वाली तस्वीरें भी तब सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुई थीं। कुछ रोज़ बाद अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी रहस्यमय स्थितियों में मृत्यु हो गई। उनकी मृत्यु को लेकर राज्य भर में कोहराम मच गया। विभिन्न सामाजिक संगठनों ने आगे आकर उन्हें न्याय देने की मांग की। अनशन कर रहे सामाजिक कार्यकर्ताओं ने भी कॉन्स्टेबल गौरी शंकर सिंह की मौत के मामले में उनके परिजनों को न्याय देने तथा इस मामले की जांच सीबीआई से कराने आदि की मांग कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button