दुर्घटनाबांका

BIG BREAKING : बांका में मौत की बारिश, वज्रपात ने ली दो महिलाओं समेत 7 की जान, जिले में मातम का माहौल

Banka Live On Telegram

बांका लाइव ब्यूरो : मंगलवार का दिन बांका जिले के लिए अमंगलकारी साबित हुआ। इस दिन बांका जिले के आसमान से मौत की बारिश हुई। ताबड़तोड़ वज्रपात ने जिले के 7 लोगों की जान ले ली, जबकि दर्जन भर लोग घायल हुए। घायलों में से तीन की हालत चिंताजनक बनी हुई है।

मंगलवार की दोपहर बाद बांका जिले में हुई झमाझम बारिश के दौरान जम कर ठनका बरसा। ठनका गिरने से जिले के विभिन्न क्षेत्रों में एक के बाद एक लोग मौत के गाल में समाते चले गए। शाम तक यह संख्या 7 तक पहुंच गई। इसी दौरान करीब दर्जन भर लोग वज्रपात की चपेट में आकर घायल भी हुए, जिनमें से तीन की हालत गंभीर बनी हुई है।

जानकारी के अनुसार मंगलवार को वज्रपात से सर्वाधिक तीन लोगों की मौत शंभूगंज प्रखंड में हुई। मरने वालों में गिरधरा गांव की 50 वर्षीय महिला गीता देवी भी शामिल हैं। इसी प्रखंड के भरतशीला गांव निवासी 70 वर्षीय रविंद्र यादव एवं गढ़ी मोहनपुर गांव निवासी 35 वर्षीय सुजीत कुमार की मौत वज्रपात की चपेट में आकर हो गई।

Banka Live Offer

उधर धोरैया प्रखंड के विशनपुर पंचायत अंतर्गत रणगांव बुजुर्ग गांव में वज्रपात ने एक बार फिर से कहर बरपाया जहां खेतों में धान का बिचड़ा उखाड़ रहे 35 वर्षीय मोहम्मद फैयाज आलम की मौत वज्रपात से हो गई। इसी प्रखंड के अहिरो पंचायत अंतर्गत पुरैनिया गांव के बहियार में धान की रोपाई करा रहे तीन सगे भाई किशोरी मंडल, संजय मंडल एवं टुनटुन मंडल वज्रपात की चपेट में आकर घायल हो गए। इनमें किशोरी मंडल की हालत गंभीर बताई गई है।

उधर कटोरिया प्रखंड के मोथाबाड़ी पंचायत निवासी एक व्यक्ति की छत्रपाल पंचायत के उसरीगोड़ा के समीप बहियार में उस वक्त वज्रपात से मौत हो गई जब वह ट्रैक्टर से खेत जोत रहे थे। मंगलवार को ही बेलहर प्रखंड के चौरा गांव में नाजो दास नामक श्रमिक की वज्रपात की चपेट में आकर मौत हो गई।

इधर वज्रपात की एक अन्य घटना बाराहाट प्रखंड अंतर्गत बभनगामा पंचायत के भिट्ठी गांव के आसपास हुई जहां 25 वर्षीया अंजनी देवी की मौत इसकी चपेट में आने से हो गई। बताया गया कि अंजनी देवी मलधरा गांव स्थित अपने मायके से ससुराल भिट्ठी आ रही थी। इसी दौरान वज्रपात हुआ जिसकी चपेट में आने से उसकी मौत हो गई।

वज्रपात की अन्य घटनाएं बाराहाट के लबोखर तथा पंजवारा के चचरा गांव के आसपास हुई जहां इनकी चपेट में आने से 7 लोग झुलस कर गंभीर रूप से घायल हो गए। इनमें से दो की हालत चिंताजनक बताई गई है जिन्हें आरंभिक इलाज के बाद रेफर कर दिया गया है। कुल मिलाकर सोमवार के बाद मंगलवार का दिन भी बांका जिले के लिए अमंगलकारी रहा। इस दिन हुए हादसों से हुई मौतों को लेकर जिले में मातम का माहौल है। ज्ञात हो कि सोमवार को भी बांका जिले में वज्रपात से एक महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई थी जबकि कई लोग घायल हुए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button