अपराधझारखंडदेवघर

CYBER CRIME : सीएसपी संचालक व सिम विक्रेता समेत अंतरजिला गिरोह के 7 गिरफ्तार

Get Latest Update on Whatsapp
IMG 20210812 54608 - Banka Live
प्रतीकात्मक तस्वीर

बांका लाइव ब्यूरो / देवघर : झारखंड का जामताड़ा साइबर अपराधियों को लेकर देशभर में कुख्यात हुआ है। जामताड़ा के साइबर अपराधियों का जाल धीरे धीरे आसपास के जिलों में फैल गया जिसका दायरा बढ़कर अब बिहार के सीमावर्ती जिलों तक पहुंच गया है। दक्षिण पूर्व बिहार का बांका जिला झारखंड की सीमा से लगा पहला और संवेदनशील जिला है। झारखंड के देवघर और जामताड़ा के साइबर अपराधियों का जाल अब बांका जिले तक भी फैल चुका है।

झारखंड के देवघर जिले की पुलिस पिछले कुछ महीनों से साइबर अपराधियों के खिलाफ बेतहाशा अभियान चला रही है और इस अभियान में देवघर पुलिस को बहुत हद तक सफलता भी मिली है। बड़े पैमाने पर साइबर अपराधी गिरफ्तार किए गए हैं। उनके रैकेट बेनकाब हुए हैं। बड़े पैमाने पर उनके खिलाफ साक्ष्य भी बरामद हुए हैं। देवघर पुलिस का साइबर अपराधियों के खिलाफ यह अभियान जारी है।

IMG 20211011 WA0011 - Banka Live

दक्षिण पूर्व बिहार का बांका जिला झारखंड की सीमा से लगा पहला और संवेदनशील जिला है। झारखंड के देवघर और जामताड़ा के साइबर अपराधियों का जाल अब बांका जिले तक भी फैल चुका है।

इस अभियान में देवघर पुलिस को लगातार मिल रही सफलताओं की ताजा कड़ी में सीएसपी संचालक तथा सिम विक्रेता सहित साइबर अपराधियों के एक बड़े अंतरजिला गिरोह के साथ कुख्यात सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। गिरफ्तार आरोपियों के पास से 10 मोबाइल एवं 14 सिम कार्ड भी बरामद किए गए हैं। इनके अलावा कई अन्य ऐसी सामग्री जिनका उपयोग वे साइबर ठगी के लिए करते थे, पुलिस के हाथ लगे हैं।

देवघर एसपी धनंजय कुमार सिंह को इन साइबर अपराधियों की सक्रियता की गुप्त सूचना मिली थी जिसके बाद डीएसपी मुख्यालय मंगल सिंह जामुदा एवं डीएसपी नेहा बाला के नेतृत्व में स्पेशल टास्क फोर्स का गठन कर उनके खिलाफ कार्रवाई का आदेश दिया गया। टास्क फोर्स ने देवघर जिले के पथरौल थाना क्षेत्र अंतर्गत रांगा सिरसा, मधुपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बलिया गांव एवं सीमावर्ती बिहार के बांका जिला अंतर्गत चांदन थाना क्षेत्र से 7 साइबर अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है।

डीएसपी मुख्यालय मंगल सिंह जामुदा के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी भोले भाले लोगों को कैश-बैक का लालच देकर उन्हें अपनी ठगी का शिकार बनाते थे। गिरफ्तार आरोपियों के पास से पुलिस ने 10 मोबाइल एवं 14 सिम कार्ड बरामद किए हैं। जिन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है उनमें पथरौल थाना क्षेत्र के रांगा सिरसा गांव निवासी दो सगे भाई शामिल हैं। दोनों मिलकर सीएसपी चलाते हैं एवं इसी की आड़ में कमीशन लेकर साइबर ठगों को अवैध रूप से पैसा उड़ाने में मदद करते हैं।

इधर चांदन थाना क्षेत्र से जिस शख्स को गिरफ्तार किया गया है वह सिम विक्रेता है और वह साइबर आरोपियों को फर्जी तरीके से सिम उपलब्ध कराता था। पुलिस ने मधुपुर थाना क्षेत्र के बलिया और कोरकोटा गांव से भी अलग-अलग दो सगे भाइयों को साइबर ठगी के आरोप में गिरफ्तार किया है। इस कार्रवाई दस्ते में पुलिस इंस्पेक्टर सुधीर कुमार पोद्दार तथा एसआई रूपेश कुमार सहित छठू राम गौड़, अघनु मुंडा, संगीता कुमार रजवार, अतीश कुमार एवं मोहम्मद अफरोज शामिल थे।


Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button